Food Vendor Sets Fire To 23,000 Savings In Old Notes, Shaves Half His Head To Protest Demonetisation

by -

कोल्लम। नोटबंदी को लेकर लोग गुटों में बंट गए हैं। एक खेमा इसके समर्थन में है तो वहीं दूसरा खेमा इसका विरोध कर रहा है। लेकिन सब मान रहे हैं कि नोटबंदी से उन्हें परेशानी हो रही है। बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी-लंबी लाइनें लगी है। लेकिन केरल के एक फूड वेंडर ने नोटबंदी के विरोध का अलग तरीका निकाला।


केरल के कोल्लम में फास्ट फूड की दुकान चलाने वाले 70 साल के याहिया भी नोटबंदी से परेशान हैं। 500 और 1000 के नोट बंद होने की वजह से वो इतने नाराज हुए कि उन्होंने सालों से बचाए हुए अपने रुपयों में आग लगा दी। याहिया ने 23000 रुपए के पुरानी करेंसी को आग में झोंक दिया।


इतना ही नहीं नोटबंदी का विरोध करने के लिए याहिया ने आधा सिर मुंडवा लिया है| उन्होंने क़सम खाई है कि जब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सत्ता से बाहर नहीं कर दिया जाता है तब तक वो अपने बाल ऐसे ही रखेंगे। केरल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉ अशरफ कदक्कल ने इस घटना का जिक्र और फोटो अपने फेसबुक पेज पर शेयर की है।




News Source

Related Stories