Dense fog in delhi almost half a dozen flights are delayed

by -

दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर देश के तमाम इलाकों में घने कोहरे ने दस्तक दे दी है. दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पर तड़के मौसम बदला और यहां पर घने कोहरे ने पांव पसार लिए. मौसम विभाग के मुताबिक पालम एयरपोर्ट पर कोहरे की वजह से 100 मीटर के बाद की चीजें नहीं दिखाई दे रही थी. वैज्ञानिक भाषा में बोले तो यहां पर विजिबिलिटी गिरकर सौ मीटर तक पहुंच गई थी. घना कोहरा होने की वजह से दिल्ली से रवाना होने वाली आधा दर्जन से ज्यादा उड़ानें लेट हो गई हैं


ये फ्लाइट्स हुईं लेट
ऐसा अनुमान है की दोपहर के बाद यानी 12:00 बजे के बाद यहां पर कोहरे में कमी आएगी. पालम एयरपोर्ट पर न्यूनतम तापमान 12.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. सीजन के पहले कोहरे की वजह से पालम एयरपोर्ट पर हवाई यातायात पर असर पड़ा. कोहरे के चलते अभी तक सात फ्लाइट्स लेट हो चुकी हैं. ये सात फ्लाइट्स हैं- 6E 769-इंडिगो (दिल्ली-पुणे), AI 411-एअर इंडिया (दिल्ली-लखनऊ), 6E 701-इंडिगो (दिल्ली-भुवनेश्वर), A1 235-एअर इंडिया (दिल्ली-गया), 6E 634-इंडिगो (दिल्ली-लखनऊ), 6E 6612-इंडिगो (दिल्ली-लखनऊ), SG 2195-स्पाइस जेट (दिल्ली-वाराणसी).


उधर दूसरी तरफ दिल्ली के सफदरजंग इलाके में सुबह तड़के कोहरे ने तेजी पकड़ी और यहां पर विजिबिलिटी गिरकर 100 मीटर के अंदर पहुंच गई. यहां पर कोहरे की न्यूनतम विजिबिलिटी रही है मौसम विभाग का कहना है की दोपहर होते-होते ज्यादातर इलाकों से कोहरा छंट जाएगा. सफदरजंग ऑब्जर्वेटरी में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. दिल्ली एनसीआर के आसपास के इलाकों की बात करें तो गुडगांव में घने कोहरे के चलते यातायात पर असर देखा गया. नोएडा और गाजियाबाद के ज्यादातर इलाके घने कोहरे की चपेट में रहे.


पूर्वी उत्तर प्रदेश और हरियाणा में भी कोहरा
पूर्वी उत्तर प्रदेश की बात करें तो तमाम तराई के इलाकों में कोहरे ने दस्तक दे दी है. यहां पर बहराइच लखीमपुर खीरी पीलीभीत बरेली रामपुर के साथ साथ कई इलाकों में कोहरा पड़ना शुरू हो चुका है. इसी के साथ पंजाब हरियाणा के कई इलाकों में कोहरे ने अपने पांव पसारे हैं मौसम विभाग के मुताबिक इन सभी इलाकों में अगले दो-तीन दिनों में कोहरा और ज्यादा घना हो जाएगा. ऐसा अनुमान है कि रात के तापमान में गिरावट के साथ दिन के तापमान में भी अगले 7 दिनों में गिरावट दर्ज की जाएगी लेकिन इस दौरान हवाओं की रफ्तार काफी कम है इस वजह से वातावरण में पहले से मौजूद नमी जबरदस्त कोहरा ला सकती है.




News Source

Related Stories