Boman irani best performances movies life and career

by -

बोमन ईरानी एक ऐसे एक्टर हैं जो विलेन, कॉमेडियन या कोई भी सर्पोटिंग किरदार निभा लें उसमें बस जान डाल देते हैं।

ऐसा नहीं है कि बोमन ईरानी हमेशा से ही एक्टर रहे हैं लेकिन उनके एक्टर बनने की कहानी भी कम दिलचस्प नहीं है। ओम शांति ओम में शाहरुख खान का डायलोग था कि किसी चीज को दिल से चाहो तो पूरी कायनात तुम्हें उससे मिलाने की साजिश में लग जाती है। बस ऐसा ही कुछ बोमन ईरानी के साथ हुआ।


पहले थे फोटोग्राफर बोमन ईरानी

पहले फोटोग्राफर थे और फिर वो उन्हें एक्टिंग का चस्का लगा। धीरे धीरे उनकी रुचि थियेटर में बढ़ती ही चली गई।


थियेटर से की शुरूआत

बोमन ईरानी ने अपने करियर की शुरूआत थियेटर से की थी और वो काफी अच्छे थियेटर आर्टिस्ट कहलाते थे और बस यहीं से किस्मत को शायद कुछ और ही मंजूर था।

और बन गए एक्टर

इस तरह बोमन ईरानी ने 42 साल की उम्र में पहली फिल्म की लेकिन असल पहचान उन्हें आगे जाकर मिली।


मुन्नाभाई एमबीबीएस से मिली पहचान

बोमन ईरानी को असली पहचान तो मुन्ना भाई एमबीबीएस से मिली जिसके लिए उन्हें बेस्ट कॉमेडियन का फिल्मफेयर पुरस्कार भी मिला।

मैं हूं ना

बोमन ईरानी फराह खान और साजिद खान दोनों के फेवरिट हैं। उनकी हर फिल्म में बोमन ईरानी होते हैं। मैं हूं ना में भी बोमन ईरानी थे और उनके किरदार को काफी पसंद किया गया था।

लगे रहो मुन्ना भाई लगे रहो

मुन्ना भाई में बोमन ईरानी का निगेटिव किरदार था और इसमें भी बोमन ईरानी बस छा गए। उन्हें लगे रहो मुन्नाभाई के लिए बेस्ट विलेन का फिल्मफेयर अवार्ड भी मिला।


दोस्ताना

दोस्ताना में भी उनका किरदार कुछ कम मजेदार नहीं था। सभी लोगों ने बोमन ईरानी के रोल को काफी पसंद किया।

थ्री इडियट्स

बोमन ईरानी की सबसे यादगार फिल्म थ्री इडियट्स है जिसमें वायरस के कैरेक्टर ने सबका दिल जीत लिया। बोमन ईरानी को इस फिल्म में काफी पसंद किया गया।




News Source

Related Stories