cyclone vardah is 330 km away from the coast of chennai school and college remain close on monday

by -

चक्रवात 'वरदा' के कारण आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के तटीय इलाकों पर हाई अलर्ट जारी किया गया है.ताजा जानकारी के अनुसार वरदा चक्रवात चेन्नई से फकत 61 किलोमीटर दूर है. भारतीय समयानुसार सोमवार सुबह 10:30 बजे वरदा की चेन्नई से दूरी का पता लगाया गया. आपको बता दें कि 100-110 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चलती हवाओं के बीच सोमवार को वरदा चेन्नई से होकर गुजरेगा. ये तूफान 2 से 5 बजे के बीच चेन्नई पहुंचेगा.

'वरदाह' से निपटने के लिए तमिलनाडु में एनडीआरएफ की 7 और आंध्र प्रदेश में 6 टीमें भेजी हैं. इतना ही नहीं भारतीय वायु सेना को भी हाई अलर्ट जारी किया गया है.

तमिलनाडु ने चार जिलों में सभी शैक्षणिक संस्थानों में छुट्टियों की घोषणा भी कर दी है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से लगे समूचे आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु में अलर्ट जारी कर दिया गया है. क्षेत्रीय मौसम केंद्र ने बताया कि वरदाह रविवार को दोपहर ढाई बजे चेन्नई से 330 किलोमीटर पूर्व में केंद्रित था और यह सोमवार दोपहर उत्तर तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र प्रदेश को अपनी चपेट में लेने से पहले पश्चिम की ओर बढ़ेगा.


ताजा जानकारी के अनुसार वरदा की चेतावनी के तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में रेल सेवा प्रभावित हुई है. इस रूट पर आने और जाने वाली कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है.

1. ट्रेन संख्या-12711 विजयवाड़ा-चेन्नई को आंशिक रूप से गुडूर और चेन्नई के बीच रद्द कर दिया गया है.

2. गाड़ी संख्या 12712 चेन्नई-विजयवाड़ा को भी आंशिक रूप से चेन्नई और गुडूर के बीच रद्द कर दिया है.

3. गाड़ी संख्या 66030 नेल्लोर-सुल्लुरपेटा मेमू कैंसल की गई है.

4. गाड़ी संख्या 66026 सुल्लुरपेटा-चेन्नई मेमू भी रद्द की गई है.

आजतक से बातचीत में एनडीआरएफ के डीजी आर. के. पचनंदा ने बताया कि एनडीआरएफ ने राहत के लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं. कुल 13 टीमें भेजी गई हैं. जिसमें आंध्र प्रदेश में 7 टीम नेल्लोर, टाडा, सलूरपेटा, ओंगले, चित्तोर, विशाखापट्टनम में, जबकि तमिलनाडु में 6 टीमें तैनात की गई है. जिनमें 3 टीम चेन्नई के लिए रवाना हुई है. 2 टीमें त्रिवलूर और 1 महाबलीपुरम में है. इसके अलावा कुछ टीमें रिजर्व भी हैं.


तमिलनाडु में सोमवार को सार्वजनिक छुट्टी
चक्रवातीय तूफान वरदा से निपटने के लिए तमिलनाडु सरकार ने भी पूरी तैयारी कर ली है. मछुआरों से अगले 48 घंटे तक समुद्र में नहीं जाने को कहा गया है. वरदाह के कारण तमिलनाडु सरकार ने प्रभावित इलाकों में सोमवार को सार्वजनिक छुट्टी की घोषणा की है. इसके तहत स्कूल-कॉलेज और दफ्तर बंद रहेंगे.

आंध्र प्रदेश में अलर्ट
आंध्र प्रदेश में पिछले कुछ घंटों के दौरान यह तूफान 20 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से नेल्लोर की ओर बढ़ रहा है. अगले 24 घंटे के दौरान इसके और तीव्र होने की आशंका है. इसके चलते आंध्र प्रदेश सरकार ने नेल्लोर, प्रकाशम, गुंटूर और कृष्णा जिले की प्रशासनिक मशीनरी को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए हाई अलर्ट कर दिया है.

चंद्रबाबू नायडू ने जरूरी निर्देश
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने खाद्य सामग्री का पर्याप्त भंडार बनाए रखने के निर्देश दिए हैं. आपात स्थिति के लिए बिजली के खंभे और सीमेंट भी तैयार रखने को कहा गया है. आंध्र प्रदेश के नेल्लोर से मछिलीपट्नम तटवर्ती प्रान्त पर निगरानी बढ़ा दी गई है.

दोनों राज्यों में भारी बारिश के आसार
इस चक्रवात के कारण चेन्नई सहित तमिलनाडु और दक्षिणी आंध्र प्रदेश के तटीय जिलों में भारी बारिश हो सकती है. क्षेत्रीय चक्रवात चेतावनी केंद्र के निदेशक एस बालचंद्रन ने चेन्नई में कहा कि वरदाह आज सुबह साढ़े आठ बजे चेन्नई से करीब 440 किलोमीटर दूर केंद्रित था और इसके दक्षिण दिशा में बढ़ने तथा 12 दिसंबर को दोपहर तक चेन्नई पहुंचने की उम्मीद है. हालांकि, उम्मीद जताई गई है कि चेन्नई पहुंचने तक इसकी तीव्रता कम हो जाएगी.


आपदा प्रबंधन आयुक्तों के संपर्क में है क्षेत्रीय मौसम विभाग
इस बीच क्षेत्रीय मौसम विभाग दोनों प्रदेशों में आपदा प्रबंधन आयुक्तों से लगातार संपर्क में हैं. क्षेत्रीय मौसम केंद्र ने चेन्नई में कहा कि तूफान से तमिलनाडु के तटीय जिलों में भारी बारिश हो सकती है. दक्षिण आंध्र प्रदेश में भी भारी बारिश होने की उम्मीद है. उसने कहा कि हवा की रफ्तार 40 से 50 किलोमीटर के बीच हो सकती है. चक्रवात के पहुंचने के समय लहरों के करीब एक मीटर तक उठने की आशंका जताई गई है.




News Source

Related Stories